Header Ads

पित्र दोष निवारण उपाय (लाल किताब) Pitra Dosh remedies lal kitab

ads xml parser
आज आप इस लेख के माध्यम से लाल किताब पितृ दोष रेमेडीज और लाल किताब के पितृ दोष उपचार के बारे में जानेंगे। आज के इस निवारण में बताया गया है टोटके और उपाय ना सिर्फ आपको पितृ दोष बल्कि और कई मुश्किलों से निवारण कराएगा जैसे कि कालसर्प दोष, सनी की साढ़ेसाती अथवा ग्रह नक्षत्रों के बुरे प्रभाव इन सभी से आपको निजात पाने में मदद करेगा। इन सभी कठिनाइयों का सामना करने के लिए आपको हमारे बताए गए टोटके एवं उपाय को अवश्य अपनाना चाहिए, यह आपके लिए बहुत ही कारगर सिद्ध होगा।
Raavan Samhita (रावण संहिता) में अपार धन प्राप्ति के सरल उपाय:- ravan samhita

Pitra dosh remedies of lal kitab

सबसे पहले हम आपको बताएंगे कुछ टोटके और इसके अचूक उपाय और इसके साथ-साथ हम आपको कुछ सावधानियां भी बताएंगे जिन्हें इन टोटकों को करते समय अपनाना बहुत जरूरी है। सबसे पहली चीज है कि आप गाय, कुत्ता, चींटी और कौवे को भोजन अवश्य कराएं ऐसा इसलिए है क्योंकि यह सभी जानवर हम इंसानों पर निर्भर होने वाले पशु होते हैं। अगर आप इन सभी प्राणियों के अन्न और जल का व्यवस्था करते हैं तो उन सभी की दुआएं आपको जरूर मिलेंगे और इसे वेदों के पंच यज्ञ में वैष्णदेव यज्ञकर्म कहां गया है। यह सबसे बड़ा पुण्य माना जाता है इसके साथ-साथ अगर आप कछुआ और मछलियों को आटा की गोलियां खिलाते हैं तथा चीटियों को आटे में भूरा मिलाके खिलाते हैं तो आप जितने भी ग्रह नक्षत्र है सब सही हो जाएंगे। आपके सारे पाप धीरे धीरे पुण्य में परिवर्तित हो जाएंगे।
धन-धान्य, सुख-संपदा के लिए दिवाली के 10 सरलतम टोटके:- diwali ke totke
Also Watch Awesome Images of dussehra:- dasara images wallpapers
पितृ दोष निवरन टोटेके
कव्वे और पक्षियों को दाना डालने से आपके पितृ तृप्त हो जाएंगे, कव्वे को हमारे पूर्वज के रूप में देखा जाता है और उनकी सेवा करने से हमारे जीवन के कई काल टल जाते हैं। प्रतिदिन चीटियों को दाना डालने से कर्ज और संकट से मुक्ति मिलती है। प्रतिदिन कुत्ते या गाय को खाना खिलाने से आपका आर्थिक संकट दूर होता है। इसके बाद हनुमान जी को चोला चढ़ाना बहुत ही शुभ माना गया है, इससे आपकी कई संकट दूर होते हैं और आपके जीवन में खुशहाली आती है।

Pitra dosh nivaran lal kitab

लाल किताब के पितृ दोष उपचार
इसके अलावा अगर आपके जीवन में बहुत ज्यादा संकट है तो आप को छाया का दान करना चाहिए। छाया का दान करने की विधि कुछ इस प्रकार है:- शनिवार को एक कासे की कटोरी में सरसों का तेल रखकर और उसमें कुछ सिक्के डालकर उसमें आपको अपनी परछाई को देखना है। इस कटोरी को फिर शनिवार को शनि मंदिर मे कटोरी सहित जा कर रख दे, यह उपाय आपको कम से कम पांच शनिवार करना है। आपके सनी की जो पीड़ा है वह शांत हो जाएगी तथा शनिदेव की कृपा आप पर शुरू हो जाएगी।
पित्र दोष निवारण लाल किताब
इसके अलावा एक और उपाय है जिसको नारियल का उतारा करते हैं इसमें आपको एक पानी से भरा हुआ नारियल और उसको अपने ऊपर से 21 बार वार लेना है इसके बाद उसे किसी देव स्थान पर जाकर अग्नि में जला दीजिए। इस उपाय में आपको यह ध्यान रखना है कि परिवार के जिस इंसान के ऊपर संकट पीड़ा हो उसी के ऊपर यह नारियल को वारे। इस उपाय को आपको मंगलयान शनिवार को करना चाहिए इससे आपके जीवन में आने वाले सभी संकट रुक जाएंगे।

चौथा लाल किताब उपाय है जल अर्पण का :- इसके अनुसार आप एक तांबे के लोटे में जल ले लीजिए उसमें थोड़ा सा लाल चंदन मिला लीजिए और उस बात को अपने सिरहाने लेकर सो जाइए और प्रातः उठकर सबसे पहले उस जल को नमस्कार करके तुलसी में चढ़ा दीजिए। इस जल अर्पण विधि को आप को 43 दिन तक लगातार करना है, इस टोटके से आपके कई परेशानियां खत्म हो जाएंगी इसलिए इसे जरूर अपनाएं।
उम्मीद है कि आपको यह लाल किताब के पितृ दोष उपचार अत्यंत पसंद आए होंगे, आप इनको अपने जीवन में प्रयोग करके देखें यह निश्चित है कि आपको लाभ अवश्य मिलेगा।
Powered by Blogger.