Header Ads

दिवाली,धनतेरस पर करें ये टोटके | Diwali Dhanteras totke (धन लक्ष्मी)

xml parser

दिवाली की रात चुपचाप करें यह टोटके | Amavasya Diwali Ke Totke in Hindi | Deepawali 2018

diwali ke totke

आज मैं आप लोगों को बताऊंगा कि दिवाली वाले दिन आप लोग क्या क्या टोने टोटके और उपाय करके अपनी जिंदगी सरल बना सकते हैं। यह सारे टोटके बहुत ही आसान है और दिवाली वाले दिन अगर आप यह टोने टोटके करते हैं तो आपको इसका अच्छा परिणाम जल्दी ही दिखाई देगा। दिवाली वाले दिन सुबह सुबह शिवलिंग पर तांबे के लोटे से जल अर्पित करें। जल में यदि केसर भी डालेंगे तो श्रेष्ठ रहेगा तथा आप लोगों को मन की शांति अवश्य ही प्राप्त होगी। जो लोग धन का संचय बढ़ाना चाहते हैं उन्हें तिजोरी में लाल कपड़ा बिछाना चाहिए। इसके प्रभाव से धन का संचय बढ़ता है तथा मां लक्ष्मी का एक ऐसा फोटो रखें जिसमें लक्ष्मी मां बैठी हुई हूं और अपना आशीर्वाद दे रही हो। घर में स्थित तुलसी के पौधे के पास दीपावली की रात में दीपक प्रज्वलित करें। तुलसी को वस्त्र अर्पित करें, ऐसा करने से आपके घर में धन लक्ष्मी का सदा आगमन बना रहेगा।



लक्ष्मी पूजन में सुपारी रखें, सुपारी पर लाल धागा लपेट कर अक्षत, कुमकुम, पुष्प आदि पूजन सामग्री से पूजा करें और पूजन के बाद इस सुपारी को तिजोरी में रखें। एक बात का विशेष ध्यान रखें कि महीने की हर अमावस्या पर पूरे घर की अच्छी तरह से साफ सफाई की जानी चाहिए। साफ सफाई के बाद घर में धूप दीप ध्यान रखें। इससे घर का वातावरण पवित्र रहेगा बरकत होगी और घर से सारी नकारात्मक शक्तियां दूर होंगी। क्योंकि दिवाली अमावस्या वाले दिन आती है इसलिए आप इस बात का ध्यान अवश्य ही रखें। दीपावली पर श्री सूक्त एवं कनकधारा स्तोत्र का पाठ करना चाहिए। राम रक्षा स्तोत्र या हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ करना बहुत ही उत्तम माना गया है। महालक्ष्मी के चित्र का पूजन करें जिसमें लक्ष्मी अपने स्वामी भगवान विष्णु के पैरों के पास बैठी हुई हूं। ऐसे चित्र का पूजन करने पर देवी बहुत जल्दी प्रसन्न होती है। दीपावली की रात सोने से पहले किसी चौराहे पर तेल का दीपक जलाकर घर लौटकर आए। ध्यान रखें कि पीछे पलटकर बिल्कुल भी ना देखें।
प्रथम पूज्य श्री गणेश भगवान को दुबरा घाट अर्पित करें। दुबला की 21 गांठ गणेश जी को चढ़ाने से उनकी कृपा प्राप्त होती है। दीपावली के शुभ दिन यह उपाय करने से गणेश जी के साथ-साथ मां लक्ष्मी की कृपा आप लोगों को प्राप्त अवश्य ही होगी। यह बहुत ही छोटे और सरल उपाय हैं अगर आप यह उपाय करते हैं तो दीपावली वाले दिन आप लोगों के घर में मां लक्ष्मी का आगमन अवश्य ही होगा।
जानिए क्यों मनाते है हम दीवाली (दीपावली की कथा):- why is diwali celebrated in hindi


दीपावली पर अचूक उपाय, दीपावली पर क्या करें | दिवाली पर लक्ष्मी प्राप्ति
Diwali dhan prapti ke upay
dhanteras par dhan prapti ke upay
दिवाली के दिन बड़े उद्योगपतियों व धन्ना सेठों के इन 5 टोटकों को करने से हो सकते हैं आपके सपने पूरे

आज मैं आपको दिवाली से संबंधित पांच बहुत शक्तिशाली उपाय और टोटके बताने जा रहा हूं, जो टोटकों को प्रयोग में ला कर के आप अपने जीवन को सुखमय बना सकते हैं। दिवाली की तिथि मां लक्ष्मी की पूजा के लिए बहुत ही विशेष होता है इस तिथि पर मां लक्ष्मी को प्रसन्न करके कोई व्यक्ति उनकी कृपा प्राप्त कर सकता है।सबसे पहले टोटका है पीपल के पत्तों का टोटका

दिवाली के दिन 5 पीपल के पत्तों को तोड़ के आप घर लाइए, आप को ध्यान में रखना है कि शाम के समय में पीपल के पत्तों को नहीं तोड़ेंगे। दिन में सूर्य रहते दोपहर के अंदर-अंदर ही आपको इन पत्तों को तोड़ लेना है। ताजी हरे स्वस्थ पत्ते ही तोड़ना है फिर उसको साफ करके गंगाजल दीजिए। रात में माता लक्ष्मी का पूजन करने के बाद उन पत्तों पर देसी घी द्वारा बनाई गई या शुद्ध दूध से बनी हुई मिठाई रखें और पीपल के पेड़ पर समर्पित करें तथा अपनी इच्छा कहे। आपकी जो भी मनोकामना है  आप मांग सकते हैं तथा पांच अगरबत्तियां भी वहां लगाए। आपको ध्यान होगा कि जब हम लोग रात के समय, घर में दीपक जलाते हैं तो एक दीपक पीपल के वृक्ष के पास भी रख ले आते हैं तो उसी के साथ साथ यह उपाय करें काफी लाभदायक होगा। आपकी जो भी मनोकामनाएं है पूरे साल के लिए या किसी एक काम के लिए।


इस प्रकार आप पीपल में निवास करने वाले 33 कोटी यानी 33 प्रकार के देवी देवताओं से अपनी मनोकामना अपनी प्रार्थना कहें, आपकी मनोकामना साल भर के अंदर जरूर पूरा होगा। दूसरा उपाय है कि दिवाली के दिन अपने पूर्वजों (पितरों) का अवश्य ध्यान करना चाहिए।  दिन में उनका तर्पण कर किसी भूखे गरीब व्यक्ति को भोजन कराएं। आपके सभी प्रकार के  अटके कार्य उसी दिन से धीरे-धीरे पूरे होने आरंभ हो जाएंगे। तीसरा उपाय यह है कि यदि आपका स्वयं अपने घर का सपना पूरा नहीं हो पा रहा है तो दिवाली के दिन किसी भूखे व्यक्ति को भोजन कराएं तथा थोड़ा सा गुड खरीद कर अपने हाथ से गाय को खिलाएं।
यह मंगल का उपाय है इसके बाद प्रत्येक शुक्रवार को किसी भूखे को भोजन कराएं तथा रविवार को गाय को गुड़ दे। ऐसा करने से 1 वर्ष के अंदर-अंदर यानी अगली दीपावली आने के पहले पहले आपका अपने भवन का सपना पूरा हो जाएगा।अब बात कर लेते हैं चौथे उपाय कि यदि आप के ऑफिस में या आपके बिजनेस में किसी कारण से आपको तरक्की नहीं मिल रही है। यह उपाय दोनों तरीके के लोगों के लिए यानी व्यापारी (बिजनेस) क्लास के लिए भी और नौकरी पेशा लोगों के लिए भी। यदि आपके व्यापार में कामयाबी नहीं मिल पा रही है। नौकरी में प्रमोशन नहीं मिल रहा, तरक्की नहीं मिल रही अथवा किसी षड्यंत्र की वजह से आपको प्रमोशन नहीं मिल रहा है तो आपको करना यह की दीवाली की रात में कच्चा सूत लेकर के उसे शुद्ध केसर से रंग ले तथा भाई दूज पर मां लक्ष्मी का स्मरण करते हुए अपने व्यापारिक स्थल पर ले  जाकर उसको कहीं भी बांध दीजिए। निश्चित ही आपको आपके व्यापार में तरक्की मिलने लगेगी तथा नौकरी मे प्रमोशन अथवा नई जॉब मिलने लगेगी।
जानिए आपके लिए रंगोली के शुभ रंग कौन से होंगे :- why we make rangoli on diwali
पांचवा और आज का आखिरी उपाय यह है कि दीपावली की रात में सरसों के तेल का दीपक जलाइए। यह बहुत आवश्यक होता है, सरसों के तेल से दरिद्रता भागती है तथा भूत-प्रेत आदि बाधाएं शांत होती हैं। तो आपको अपने घर में प्रयास करना चाहिए कि  सरसों के तेल का दीपक जलाएं। ज्यादातर लोग तिल के तेल का दीपक जलाते हैं तो आपको कम से कम 9 दीपक सरसों के तेल का जरूर जलाना चाहिए और उसको जला कर के अपने घर के अलग-अलग जगहों में रख सकते हैं। आशा करता हूं कि आपको यह सारे उपाय काफी पसंद आए होंगे मेरा आप सभी से अनुरोध है कि हमारी इस पोस्ट को शेयर जरूर करें।


दीवाली के दिन अखंड लक्ष्मी वास करने के उपाय | Diwali Ke Din Akhand Lakshmi Ji Ka Vaas

दीपावली पर किन उपायों को करने से आपको प्राप्त होगी अखंड लक्ष्मी और घर में होगा मां लक्ष्मी का वास। शारदीय नवरात्रि स्थापना के दिन से लेकर दीपावली की रात तक का समय देवी, देवताओं तथा समस्त प्रकार की साधनाओं के लिए सर्वाधिक उपयुक्त माना जाता है। इस समय की गई साधना तुरंत और कई गुना फल देती है। इसी कारण से इन दिनों किए गए टोटके भी तुरंत लाभ देते हैं। दीपावली पर फिटकरी का एक छोटा सा टुकड़ा लेकर आए ऐसे घर के सभी कोनो से स्पष्ट कराएं और किसी चौराहे पर जाकर उत्तर दिशा की ओर फेंक दे, ऐसा करने के बाद तुरंत बिना पलट कर देखे वापस घर लौट आए। ध्यान रखें इस उपाय को करते समय कोई आपको देखे नहीं, इसे घर में लक्ष्मी का निवास होता है और गरीबी दूर होती है।दीपावली के दिन लक्ष्मी जी के मंदिर में जाकर उन्हें नए वस्त्र अर्पित करें तथा उन्हें सुगंधित धूप अर्पित करें। इससे तुरंत ही धन संबंधी समस्याएं समाप्त होती हैं।
Akhand lakshmi mantra

छोटी दीपावली के दिन लाल चंदन गुलाब और थोड़ी सी रोली को एक लाल कपड़े में बांधकर पूजा करें, पूजा के बाद इस पोटली को घर की तिजोरी में रखें। इससे घर के अनावश्यक खर्च बंद हो जाएंगे और घर में पैसे की आवक शुरू हो जाएगी।दीपावली के दिन सुबह पूजा करने के समय पीतल या तांबे के लोटे में जल भरकर उसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाकर इसे पूजा स्थान पर रखें। पूजा के बाद पूरे घर में पीले फूल द्वारा इस जल का छिड़काव करें तथा बाकी बचा हुआ केले के पेड़ पर चढ़ा दे। दीपावली के दिन 5 पीपल के पत्ते तोड़कर घर लाएं, रात को लक्ष्मी पूजन के पश्चात उन पत्तों पर पनीर, दूध से बनी मिठाई रखकर उसे पीपल के पेड़ को चढ़ा दें तथा मन ही मन अपनी इच्छा पूरी करने की प्रार्थना करें। आपके हर कार्य अवश्य ही सफल होंगे। दीपावली की शाम लक्ष्मी पूजन के समय थोड़ी सी चने की दाल लक्ष्मी जी पर छिड़क दें। पूजा समाप्त होने के पश्चात इसे इकट्ठे करके पीपल के पेड़ पर समर्पित करें, आपको अच्छी नौकरी प्राप्त होगी। अगर आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी अच्छी लगी है तो इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ अपने प्रिय जनों के साथ शेयर कीजिए।


दिवाली के चमत्कारी टोटके | Diwali Ke Chamatkari Totke | Deepawali 2018

भारत में दिवाली त्यौहार का अपना ही एक अलग महत्व होता है। अगर इस दिन हम कुछ टोने टोटके और उपाय को अगर करते हैं तो उससे मां लक्ष्मी तुरंत प्रसन्न होती होती हैं और हमारे घर में कभी भी दरिद्रता का निवास नहीं होता और सुख समृद्धि आती है। तो हम आपको आज कुछ टोने टोटके बताते हैं, इनमें से आप एक या एक से अधिक उपाय को अपना सकते हैं।
  1. पहला टोटका- दीपावली पर लक्ष्मी पूजन के बाद घर के सभी कमरों में शंख और घंटी बजानी चाहिए। इससे घर की नकारात्मक ऊर्जा और दरिद्रता बाहर चली जाती है और मां लक्ष्मी का घर में वास होता है। 
  2. अगला उपाय-दीपावली पर तेल का दीपक जलाएं और दीपक में एक लौंग डालकर हनुमान जी की आरती करें। किसी मंदिर में या हनुमान मंदिर में जा कर ऐसा दीपक भी आप जला सकते हैं।
  3. अगला उपाय- दीपावली पर महालक्ष्मी पूजन में पीली कौड़ियां अवश्य रखें इससे महालक्ष्मी बहुत ही जल्दी प्रसन्न होती हैं और आपकी जो भी परेशानियां है सब खत्म होती है। मंदिर में झाड़ू का दान करें यदि आपके घर के आसपास कहीं महालक्ष्मी का मंदिर हो तो वहां गुलाब की सुगंध वाली अगरबत्ती का भी दान करें। 
  4. अगला उपाय-इस दिन अमावस्या रहती है और तिथि पर पीपल के वृक्ष को जल अर्पित करना चाहिए ऐसा करने पर शनि के दोष और कालसर्प दोष समाप्त हो जाते हैं। 
  5. अगला उपाय- अपने घर के आस-पास किसी भी पीपल के पेड़ के नीचे सरसों तेल का दीपक जलाएं यह उपाय दीपावली की रात में किया जाना चाहिए ध्यान रखें दीपक जलाकर आप चुपचाप अपने घर लौट आए और वापस पलट कर ना देखें।
  6. अगला उपाय- लक्ष्मी पूजन करते समय एक नारियल ले और उस पर अक्षत, कुमकुम, पुष्प आदि अर्पित करें और उसकी भी पूजा करें। ऐसा करने से आपके घर में लक्ष्मी मां हमेशा बनी रहती है। दीपावली के दिन यदि संभव हो तो किसी किन्नर से उसकी खुशी से ₹1 का सिक्का लें और इस सिक्के को अपने पर्स में रखें। ऐसा करने से आपके घर में बरकत बनी रहती है। दीपावली में मछलियों को आटे की गोलियां बनाकर खिलाएं इससे जो भी आपके संकट हैं सारे दूर हो जाएंगे।
  7. अगला उपाय- लक्ष्मी पूजन में सुपारी रखें सुपारी पर लाल धागा लपेट कर अक्षत, कुमकुम, पुष्प आदि पूजन सामग्री से पूजा करें और पूजन के बाद इस सुपारी को तिजोरी में रखें ऐसा करने से लक्ष्मी मां आप पर कृपा दृष्टि बरसाती हैं। तो यह थे कुछ उपाय दिवाली से जुड़े हुए जो कि अगर आप अपनाते हैं तो आपके घर में धन और खुशहाली हमेशा बनी रहेगी।

What to do on dhanteras

दिवाली 2018 महालक्ष्मी पूजा - धनतेरस में क्या करना चाहिए
नीचे बताई जाने वाली विधि से अगर आप मां लक्ष्मी जी की पूजा करते हैं तो यह पूजा आपके लिए धन यश और समृद्धि लाती हैं। मां लक्ष्मी की पूजा की सरल और आसान सी विधि यह है कि दिवाली के दिन दीप जला कर के रोशनी करके अगर आप महालक्ष्मी को  प्रसन्न करते हैं तो मां लक्ष्मी उस व्यक्ति के घर में आती हैं। जो इस विधि से मां लक्ष्मी की पूजा आराधना करते हैं। जिस घर से मां अधिक प्रसन्न होती हैं उन्हें कभी भी धन की कमी नहीं होती। अगर दिवाली वाले दिन मां लक्ष्मी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो जो 33 विशेष सामग्रियां मैं आपको नीचे बताने वाली हूं उनका प्रयोग करें, इनके साथ साथ मां लक्ष्मी जी की पूजा करने के अलावा भगवान गणेश और भगवान विष्णु की पूजा आपको करनी चाहिए। साथ ही साथ भगवान कुबेर की भी पूजा करें तो आपको बहुत अच्छा लाभ मिलेगा।सबसे पहले हम लोग जानते हैं कि किस मुहूर्त में या किस समय में आपको पूजा करना चाहिए। इस बार महालक्ष्मी की पूजा के लिए दिवाली पर मुहूर्त पूरे दिन का है, जो कि काफी अच्छी बात है।

इस बार महालक्ष्मी की पूजा का विशेष मुहूर्त है वह सुबह 7:11am से लेकर रात 8:30pm बजे तक का है। यह बहुत अच्छा समय सुबह 7:11am से रात 8:30 बजे तक का मुहूर्त है, इसमें आप अपनी पूजा कर सकते हैं और उसके बाद आप लोगों से मिलने मिलाने का तथा परिवार के लोगों के साथ मौज मस्ती भी कर सकते हैं। जो लोग महानिशा काल की पूजा करते हैं उनके लिए रात्रि कालीन 11:40pm से लेकर 12:35am तक का समय है।लक्ष्मी और गणेश जी की पूजादिवाली के दिन शाम के समय घर के पूजा स्थान में लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्तियों को रख कर पूजा की चौकी पर स्वास्तिक बना करके और चावल रख कर के आप को उन मूर्तियों को स्थापित करें। मूर्तियों के सामने जल से भरा हुआ एक कलश रखें इसके बाद मोतियों के सामने बैठकर हाथ में जल लेकर की शुद्धि का मंत्र उच्चारण करते हुए, उसे मूर्ति पर और पूजा की सभी सामग्रियों पर और घर के जो भी सदस्य पूजा में सम्मिलित है उन सभी पर छिड़कना चाहिए। साथ ही साथ शुद्धि का मंत्र भी बोल सकते हैं।



ॐ अपवित्र: पवित्रो वा सर्वावस्थां गतोअपी वा |य: स्मरेत पुण्डरीकाक्षं स बाहान्तर : शुचि: ||

इस मंत्र का अर्थ यह होता है कि कितनी भी अपवित्र चीज हो वह पवित्र हो जाती है। हर प्रकार से “सर्वावस्थां गतोअपी वा” हर अवस्था में पवित्र हो जाए, बाहर से और अंदर से भी पवित्र हो जाए सिर्फ पुण्डरीकाक्षं यानी भगवान विष्णु का नाम स्मरण कर लेने से, उनका ध्यान करने मात्र से। इस मंत्र का उच्चारण करके चीजों पर आपको हल्का सा जल छिड़क देना चाहिए और खुद पर भी तीन बार पुष्प से या किसी पत्ती से छिटां मार ले। 
मां लक्ष्मी की पूजा में कलावा, रोली, सिंदूर, एक नारियल (जल वाला नारियल), अक्षत, लाल वस्त्र, फूल, पान सुपारी, लौंग, पान के पत्ते, घी, कलश, कलश के लिए आम का पल्लव यानी 5 आम के पत्ते, लकड़ी की चौकी, संविदा, हवन कुंड, हवन सामग्री, कमलगट्टे, पंचामृत, पंचामृत में क्या-क्या चीजें होती है वह भी समझ लीजिए- दूध, दही, घी, शहद और गंगाजल के पांच चीजें प्रमुख है। फल, बतासे, मिठाईयां, पूजा में बैठने हेतु आसन, हल्दी, अगरबत्ती, कुमकुम, दीपक, रुई, आरती की थाली, कुशा, रक्तचंदन, श्रीखंड चंदन तो यह है पूजन सामग्री जिनका इस्तेमाल आपको करना चाहिए।

पूजन शुरू करने से पहले चौकी को धो करके उस पर चावल से स्वास्तिक बना ले और रंगोली बनाएं। चौकी के चारों तरफ दीपक जलाएं। जिस जगह पर मां लक्ष्मी और भगवान गणेश को स्थापित करना हो उस जगह पर थोड़े से चावल रख कर के आप उनकी प्रतिमा को स्थापित करें। मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए उनके बाएं ओर भगवान विष्णु की प्रतिमा को भी स्थापित करें। इनकी पूजा करने से सुख-समृद्धि घर में आती है।


पुष्प, फल, सुपारी, पान, चांदी का सिक्का, नारियल (जल वाला जो हम लोग पूजा में जटा वाला इस्तेमाल करते हैं), मिठाई, मेवा आदि सामग्री थोड़ी-थोड़ी मात्रा में लेकर दीपावली पूजन के लिए संकल्प लें। सबसे पहले गजानन भगवान की अर्थात भगवान गणेश की पूजा करें। इसके बाद स्थापित सभी देवी देवताओं का पूजन करें। कलश की स्थापना करें और मां लक्ष्मी का ध्यान करें। मां लक्ष्मी को इस दिन लाल वस्त्र पहनाना चाहिए अथवा उनको समर्पित करने चाहिए। इसके बाद यह सारी सामग्री जो आपने एकत्रित किए हैं उनको पूजा में एक-एक करके धीरे धीरे आप चढ़ा दीजिए। अगर कोई मंत्र या कुछ ऐसा आपको नहीं भी मालूम है तो इसमें कोई बहुत मंत्र या विधि विधान की आवश्यकता नहीं होती, यह सारी चीजें आप धीरे-धीरे एक-एक करके उन्हें चढ़ाइए बाद में आरती कर लीजिए तथा भोग लगा दीजिए, आपकी पूजा सफल होगी। तो इस सरल विधि से पूजा करके मां लक्ष्मी की कृपा, भगवान गणेश और भगवान की कृपा प्राप्त कर सकते हैं।

HOW TO PERFORM LAXMI PUJA FOR DIWALI ( कैसे करे दिवाली लक्ष्मी पूजन )

आप सभी को मेरी ओर से धनतेरस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं। आज मैं आपको लक्ष्मी पूजन किस प्रकार करते हैं यह बताने वाली हूं। पूजा में लगने वाली सामग्री है- सबसे पहले लक्ष्मी माता की मूर्ति, फूल, गणेश स्थापना के लिए हमें पान, पैसे और लाल सुपारी लगने वाली है, पांच प्रकार के फल, कलश उसमें पांच खाने के पत्ते, नारियल, हमारे यहां जो भी धन है वह धन, शुगरे जिसमें पांच प्रकार के अनाज रखे जाएंगे, दीया, घी का दिया, धूप, घंटी, कुमकुम और चावल, प्रसाद, लक्ष्मी जी का फोटो, कुबेर और लक्ष्मी का फोटो।




छोटी दिवाली के असरदार टोटके || Lal Kitab Ke Totke - Dhanteras ke Totke upay

छोटी दिवाली के दिन अगर आप कुछ खास तरह से मां लक्ष्मी की पूजा करेंगे तो उनकी कृपा कभी भी आपके ऊपर से कम नहीं होगी। आज मैं आपको बताऊंगी कुछ ऐसे उपाय जो आप छोटी दिवाली के दिन कर सकते हैं। पहला उपाय छोटी दिवाली के दिन घर की साफ सफाई करने के बाद एक कटोरी में कच्चा दूध लेकर उसमें थोड़ा सा शहद मिलाएं। तत्पश्चात उसे पूरे घर में छीड़के ऐसा करने से नकरात्मक ऊर्जा घर से बाहर चली जाएगी। 
दूसरा उपाय
5 एकाशी नारियल लेकर उसमें रोली, चंदन और धूप दिखा कर एक लाल कपड़े में बांधकर पूजा कक्ष में रख दें। दिवाली की पूजा करने के बाद बंधी हुई पोटली को अपनी तिजोरी में रख दे। यह उपाय करने से घर में धन की बरकत बनी रहती है। 
तीसरा उपाय
यदि परिवार में कोई लगातार बीमार रहता है, तो छोटी दिवाली के दिन 7 सुपारी, 3 हल्दी की गांठ और 5 लौंग को एक काले कपड़े में बांधकर रोगी के पूरे शरीर से 19 बार उतार कर पोटली को किसी सुनसान स्थान पर एक गड्ढा खोदकर मिट्टी में दबा दें। 
चौथा उपाय 
छोटी दिवाली के दिन किन्नरों को हरी चूड़ियां और हरे रंग की साड़ी का दान करने से वैभव दिन पर दिन बढ़ता जाता है। 
पांचवा उपाय
इस दिन पूरे घर में नींबू और सेंधा नमक पानी में मिलाकर पोछा लगाने से मकान का वास्तु दोष दूर होता है।
छठा उपाय
छोटी दीवाली से लेकर भैया दूज तक पंचामृत का भोग लगाकर घर के सभी सदस्य को बांटे और दिवाली के दिन थोड़ा सा पंचामृत घर के मुख्य द्वार पर छिड़कने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद बना रहता है।
सातवां उपाय
छोटी दिवाली, धनतेरस व बड़ी दिवाली इन तीनों दिनों तक गणेश स्त्रोत का पाठ करने से मां लक्ष्मी की कृपा से आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
In this post you have learnt a lot about diwali ke totke and dhanteras ke upay, you should definitely try few of these totke this diwali 2018.
Powered by Blogger.